Laxmi Niwas Mittal Biography in Hindi - लक्ष्मी निवास मित्तल जी की जीवनी?

हेल्लो मित्र जानते हैं "लक्ष्मी निवास मित्तल जी" (A short Laxmi Niwas Mittal Biography in Hindi) के जीवनी के बारे में जो स्टील के शहंशाह है? इस पेज में आपको लक्ष्मी निवास मित्तल जी के जीवन पर एक निबंध पढ़ने के लिए मिलेगा तो चलिए शुरू करते हैं.

लक्ष्मी निवास मित्तल जी का जीवन परिचय?

लक्ष्मी निवास मित्तल का जन्म राजस्थान के बाड़मेर में हुआ था ! उनके पिता का नाम मोहन लाल मित्तल था, मित्तल की शिक्षा लन्दन में हुई ! उन्होंने अपने इस्पात व्यापार की शुरुआत एक छोटे से व्यापारी के रूप में की किन्तु आज मित्तल विश्व का सबसे बड़े इस्पात उपादक के रूप में जाने जाते है ! उनको स्टील का उत्पादन करने वाली विशाल कम्पनियों को खरीदने की धुन है ! सर्वप्रथम उन्होंने एक इंडोनेशियन कम्पनी को खरीदा था और देखते ही देखते विश्व की स्टील उत्पादन करने वाली दूसरी सबसे बड़ी कंपनी आर्सलर को खरीद लिया ! आर्सलर कंपनी नीदरलैंड के व्यापारी जोसफ कीन्स की है.
यह भी पढ़ें:

लक्ष्मी मित्तल जी का व्यापारिक सफ़र?

मित्तल को आर्सलर को खरीदने हेतु काफी मशक्कत करनी पड़ी ! जब उन्होंने आर्सलर खरीदने का इरादा व्यक्त किया तभी यूरोप के व्यापार जगत उनकी इस मंशा का विरोध किया ! यूरोपियन व्यापार जगत का तर्क था की मित्तल भारतीय समुदाय से सम्बन्ध रखते है तथा सामान्यत: ये देखा गया है कि एशियन विशेषकर भारतीय उतने प्रोफेसनल नै होते जितने कियूरोपियन ! दूसरी समस्या थी की आर्सलर में 62000 के लगभग कर्मचारी विश्व भर में कार्य करते है तथा उनमे अधिकांश यूरोपियन है ! उनको मित्तल की क्षमता पर संदेह था की वह उन कर्मचारियों को उस तरह से नहीं रख पाएंगे जिस प्रकार से यूरोप की आर्सलर कंपनी का प्रबंधक उन्हें रखता था ! भारतीय समुदाय का अपना तर्क यह था कीजब मित्तल पूरी पूरी राशी उस कम्पनी को खरीदने में अदा क्र रे है तथा नियमो तथा शर्तो का पालन करने का वचन दे रहे है | तभी मित्तल की आर्सलर को एक्वायर करने से रोकना कुछ नहीं केवल नस्लवाद है ! अन्तत: मित्तल का आर्सलर से समझौता 18 जून 2006 को हुआ.

आर्सलर कंपनी के समझोते के नियम?

1) ऑनरशिप 50% आर्सलर इन्वेस्टर्स, 45% मित्तल इन्वेस्टर्स
2) नई कंपनी का उत्पादन 110 मैट्रिक टन होगा जो उसके निकटम प्रतिद्वंदीसे 3 गुना अधिक होगा
3) इसके 27 देशो में 61 प्लांट्स होंगे
4) वन शेयर वन एग्रीमेंट
5) किंस 2007तक चेयरमैन होंगे ! फिर 2007 में लक्ष्मी मित्तल चेयरमैन होंगे
6) बोर्ड में 18 सदस्य होंगे 6 मित्तल स्टील के , 3 आर्सलर के तथा तीन एम्प्लायी प्रतिनिधि
7) मैनेजमेंट बोर्ड में 6 सदस्य होंगे

मित्तल द्वार अब तक कम्पनीयों का एक्विजिशन?

1) 1982 आरयन एंड स्टील कंपनी (ट्रिनीडाड एंड टोबागो)
2) 1992 सिब्ल्स स्टील, मैक्सिको (213 मिलियन डॉलर)
3) 1994 सिबके डैस्को, कनाडा (455 मिलियन डॉलर)
4) 1995 हम्बर्गर स्थाल वर्क, जर्मनी
5) 1995 करमेट, कजाकिस्तान(950 मिलियन डॉलर)
6) 1997 स्थाल वर्क रहुरोट एंड
7) 1998 इंग्लैंड स्टील कंपनी (यू. एस.) (1430 मिलयन डॉलर)
8) 1999 युनिमेटल, फ़्रांस (120 मिलयन डॉलर)
9) 2001 अल्फ़ा सिड अल्जीरिया, सिड़ेक्स रोमानिया
10) 2003 नोवा हट ,चेक गणराज्य (905 मिलियन डॉलर)
11) 2004 पोल्सकी हुटी,पोलैंड (1050 मिलियन डॉलर)
12) 2004 बाल्कन स्टील, बोस्निया
13) 2004 टेपरो लासी, रोमानिया
14) 2004 साइड रुजिका, रोमानिया (126 मिलियन डॉलर)
15) 2004 बी.एच. स्टील बोस्निया (280 मिलियन डॉलर)
16) 2004 इस्कोर स्टील , द.अफ्रीका (280 मिलियन डॉलर)
17) 2005 हुनान वेलिन, चीन (37.17%)
18) 2005 इंटरनेशनल स्टील, यू .एस (4.5बिलियन)

अन्य संबधित निबंध लेख:

Comments

Popular posts from this blog

Character Certificate in Hindi - चरित्र प्रमाण पत्र?

unmarried certificate in hindi - अविवाहित प्रमाण आवेदन पत्र?

Death Certificate form in Hindi - मृत्यु प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र?